अपने दांतों को कैसे रखें Fit And Fine बता रहे हैं डॉक्टर ए.एस.मलिक

 अपने दांतों को कैसे रखें Fit And Fine बता रहे हैं डॉक्टर ए.एस.मलिक

नोएडा: दांतों को कैसे रखें Fit And Fine ओरल हेल्‍थ एक गंभीर समस्‍या है ज‍िसे आपको नजरअंदाज नहीं करना चाह‍िए इसका बुरा असर लोगों पर पड़ता है। अगर आप दांतों की सफाई अच्‍छी तरह से नहीं करते हैं तो आपको दांत में कैव‍िटी होने पर तेज दर्द की समस्‍या हो सकती है और ज्‍यादा लंबे समय तक अगर आप इसे टालेंगे तो आपको रूट कैनाल करवाना पड़ सकता है वहीं और देरी करने में दांत न‍िकालने की नौबत आ सकती है, ऐसा न हो उसके ल‍िए आपको दांतों का खास ख्‍याल रखना चाह‍िए।

नोएडा के भंगेल में अपना डेंटल क्लिनिक चलाने वाले डॉक्टर ए.एस मलिक ने दांतों को स्वस्थ रखने के कई टिप्स दिए हैं। पायरिया या पीरियोडोंटाइटिस मसूड़ों का गंभीर संक्रमण है, जो लोगों के बीच काफी सामान्य है। दुनिया में 90 प्रतिशत लोग पायरिया से जूझ रहे हैं, लेकिन समस्या ये है कि लोगों को इसके इलाज की बहुत ज्यादा जानकारी नहीं है। डॉक्टर ए.एस मलिक  के अनुसार, हमारे दांतों में बैक्टीरिया की कई प्रजातियां होती हैं। जब ये बैक्टीरिया धीरे-धीरे हमारे दांतों के आसपास जमना शुरू हो जाते हैं, तो जो खाना हम खाते हैं, उससे इन्हें न्यूट्रिशन मिलता है और ये हमारे दांतों के आसपास जमकर मसूड़े और जबड़े की हड्डी को नुकसान पहुंचाते हैं। धीरे-धीरे हड्डी गलना शुरू हो जाती है, तो इस बीमारी को पायरिया कहते हैं। समय रहते इस बीमारी पर ध्यान नहीं दिया गया , तो यह बढ़कर इतना फैल जाती है कि दांत हिलना शुरू हो जाते हैं। एक बार दांत निकल गए तो , इन्हें रिप्लेस कराना न केवल टाइम कंज्यूमिंग है, बल्कि बहुत मुश्किल भी है। डॉक्टर्स के अनुसार हड्डी और दातों के डैमेज को रोकने के लिए मौखिक स्वच्छता बनाए रखना जरूरी है।

पायरिया का इलाज

  • टैटार को नियमित रूप से ब्रश करने से या घर पर नहीं हटाया जा सकता, इसके लिए आपको डॉक्टर के पास जाना जरूरी है।
  • आपका डॉक्टर स्केलिंग ऑर पॉलिशिंग प्रोसेस की मदद से दातों पर जमा मैल को हटा सकता है।
  • डॉक्टर आपको  ब्रश करने के सही तरीके के बारे में बताएंगे, जो ओरल हाइजीन रखने में आपकी मदद करेगा।
  • स्वस्थ मसूड़ों के लिए दिन में दो से तीन बार मुंह धोने के लिए हल्के गर्म पानी में 1 चम्मच नमक डालकर कुल्ला करें।
  • कुछ मामलों में डेंटिस्ट मसूडों को संक्रमण से बचाने के लिए एंटीबायोटिक लिख सकता है। एंटीबायोटिक एक माउथवॉश, जेल, ओरल टैबलेट या कैप्सूल के रूप में हो सकता है।
  • यदि उन जगहों पर सूजन लगातार बनी रहे, जहां ब्रश नहीं पहुंच सकता, तो डॉक्टर मसूडों के नीचे जमाव को साफ करने के लिए फ्लैप सर्जरी के लिए कह सकता है। इसमें एनेस्थिशिया की मदद से आपके मसूड़े हटा दिए जाते हैं और दांतों की जड़े एकदम साफ हो जाती हैं। इसके बाद मसूडों को फिर से सिल दिया जाता है।

आपको बता दें कि डॉक्टर ए एस मलिक नोएडा के अच्छे डेंटिस्टों में से एक है उनको करीब 43 साल का अनुभव है। डॉक्टर मलिक का क्लिनिक  गेझा रोड भंगेल नियर टीवीएस शोरूम के पास है। वह रूट कैनाल उपचार सहित रूटीन सर्जिकल प्रक्रियाओं और पुनर्स्थापनात्मक दंत चिकित्सा में विशेषज्ञता रखते हैं। वे सर्वोत्तम और नवीनतम तकनीकों और उपकरणों का उपयोग करते हैं।

AVS POST Bureau

https://avspost.com

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.